आरटीपीएस बिहार, अब आवेदन करना हुआ और भी आसान जानिए कैसे?


आरटीपीएस बिहार एक सरकारी वेब पोर्टल है जिसके सहायता से बिहार के मूल निवासी विभिन्न दस्तावेजों के लिए ऑनलाइन आवेदन देकर उसे केवल 2 या 3 दिनों में ही प्राप्त कर सकते हैं। ‌आरटीपीएस पोर्टल के सहायता से ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत ही सरल बन चुकी है, मौजूदा समय में किसी भी दस्तावेज के निर्माण के लिए बिहार आरटीपीएस होटल का सहयोग ले सकते हैं। यदि आप और राशन कार्ड, जाती प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र,‌ निवास प्रमाण पत्र या किसी अन्य प्रकार का दस्तावेज बनवाना है तो आप इस पोर्टल के सहायता से घर बैठे ही बहुत ही आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आपको इस जानकारी से भी अवगत कराते चले कि इस पोर्टल पर आवेदन करने की प्रक्रिया अब और भी सरल कर दी गई है कोई भी व्यक्ति जिसके पास उसका आधार कार्ड उपलब्ध है वह उसके सहायता तथा ईकेवाईसी के मदद से बहुत ही आसानी से आवेदन देकर अपना दस्तावेज प्राप्त कर सकता है।

आरटीपीएस बिहार

आरटीपीएस का फुल फॉर्म राइट टू पब्लिक सर्विस है, इस पोर्टल को लॉन्च करने के पीछे का उद्देश बिहार सरकार का यह है कि बिहार के मूल निवासी को किसी भी दस्तावेज बनाने के लिए सरकारी कार्यालय का चक्कर लगाने की आवश्यकता ना हो। यदि कोई व्यक्ति आरटीपीएस बिहार के सहायता से किसी भी दस्तावेज के लिए ऑनलाइन आवेदन करता है तो उस स्थिति में उसे किसी भी जरूरी दस्तावेजों को ऑनलाइन ही अपलोड करना होता है, ना की किसी कार्यालय जाकर जमा करना होता है।‌ यदि आप कार्यालय जाकर भी आपका आवेदन ऑनलाइन ही सबमिट किया जाएगा, मुख्य रूप से करोना काल से पहले ऑनलाइन दिए गए आवेदन से दस्तावेज बनने में तकरीबन 2 सप्ताह का समय लगता था, लेकिन जब भारत एवं पूरे विश्व में करुणा जैसी महामारी आई और उस स्थिति में कुछ दस्तावेजों का होना अनिवार्य हो गया था, तब से इस पोर्टल के सहायता से कोई भी दस्तावेज अधिकतम दो से 3 दिनों में ही प्राप्त हो जाता है।

आप इस बात को भी जान नेकी आवेदन करने के लिए आपको पोर्टल पर ₹1 भी चुकाने की जरूरत नहीं है,‌इस पोर्टल पर उपलब्ध सभी सेवाएं बिल्कुल मुफ्त में प्राप्त की जा सकती हैं। आवेदन करने से पहले अभी तक को जरूरी दस्तावेजों के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए कि किसी भी दस्तावेज को बनाने के लिए कौन से अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी, क्योंकि यदि आपका ऑनलाइन आवेदन संपूर्ण रूप से नहीं भरा होगा इसमें जरूरी जानकारियां उपलब्ध नहीं होंगे या जरूरी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए गए होंगे उस आवेदन को अधिकारियों द्वारा खारिज कर दिया जाएगा। जो सर्टिफिकेट आपको ऑनलाइन प्राप्त होता है वह पूर्ण रुप से आप किसी भी जगह उस दस्तावेज को दिखाकर उससे संबंधित लाभ उठा सकते हैं, आपके सर्टिफिकेट पर कोई मैनुअल सिग्नेचर नहीं किया जाता बल्कि एक डिजिटल सिग्नेचर उपलब्ध होता है, और उस सिग्नेचर से ही यह पहचान हो जाती है कि आप जो दस्तावेज दिखा रहे हैं वह फर्जी है या सही।

आरटीपीएस पोर्टल के अंतर्गत कौन कौन से विभाग आते हैं?

बिहार आरटीपीएस पोर्टल पर बिहार सरकार के विभिन्न विभागों के अंतर्गत आने वाली कई सेवाओं ला इस पोर्टल पर आवेदन करके उठाया जा सकता है। ‌आरटीपीएस पोर्टल पर आप विभिन्न विभाग के अंतर्गत आने वाले विभिन्न दस्तावेजों के लिए आवेदन कर सकते हैं, आरटीपीएस पोर्टल के अंतर्गत आने वाले सभी विभागों की सूची हमने नीचे दे रखी है आप उन्हें पढ़ें।

  • श्रम संसाधन विभाग
  • गृह विभाग
  • योजना एवं विकास विभाग
  • सामान्य प्रशासन विभाग
  • पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन विभाग
  • परिवहन विभाग
  • राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग
  • पर्यटन विभाग

इस पोर्टल के सहायता से सबसे ज़्यादा सामान्य प्रशासन विभाग के अंतर्गत आने वाले दस्तावेजों के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जाता है, दस्तावेज जो सामान प्रशासन विभाग के अंतर्गत आते हैं वह आय प्रमाण-पत्र,‌ जाति प्रमाण पत्र एवं निवास प्रमाण पत्र है। इन तीनों में से किसी भी दस्तावेज को आवेदन करने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड का होना अनिवार्य होता है, यदि आवेदक के पास आधार कार्ड से जुड़ा मोबाइल नंबर उपस्थित ना हो तो भी वह इस पोर्टल के सहायता से बहुत ही आसानी से आवेदन देकर अपना जाति प्रमाण पत्र आय प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकता है।

जन्म प्रमाण पत्र तथा मृत्यु प्रमाण पत्र जैसे जरूरी दस्तावेजों का निर्माण केवल आरटीपीएस कांटेक्ट पर जाकर ही करवाया जा सकता है इसके लिए आवेदक को अपने क्षेत्र में पड़ने वाले ब्लॉक ऑफिस जाना होता है, यह दो दस्तावेज बिहार सरकार के योजना एवं विकास विभाग के अंतर्गत आता है।

आरटीपीएस पोर्टल के सहायता से हम किन दस्तावेजों के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं?

जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि आरटीपीएस बॉटल के अंतर्गत आने वाले विभागों की संख्या 8 है उनमें से कई विभागों के अंतर्गत आप खुद घर बैठे ही ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और कुछ के लिए आपको अपने ब्लॉक ऑफिस में जाना अनिवार्य होता है, किस विभाग के अंदर कौन सा दस्तावेज बनाया जाता या कौन सी योजना आती है इसकी जानकारी हमने नीचे साझा की है आप उसे पढ़ें और उसके संबंध में भी जानकारी प्राप्त करें। 

श्रम संसाधन विभाग
  • कारखाना अधिनियम
  • ठेका मजदूर अधिनियम
  • भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण अधिनियम
  • वाष्पित्र अधिनियम
  • बीड़ी एवं सिगार कामगार अधिनियम
  • 25/04/2017 से पहले के प्रमाण पत्रों की पुष्टि करे
  • श्रमिक संघ अधिनियम
  • मोटर परिवहन कर्मकार अधिनियम
  • बिहार दुकान एवं प्रतिष्ठान अधिनियम
  • अंतरराज्जीय प्रवासी मजदुर अधिनियम
गृह विभाग
  • आचरण प्रमाण-पत्र के लिए आवेदन
योजना एवं विकास विभाग
  • जन्म प्रमाण-पत्र का निर्गमन
  • मृत्यु प्रमाण-पत्र का निर्गमन
सामान्य प्रशासन विभाग
  • आवासीय प्रमाण-पत्र का निर्गमन
  • जाति प्रमाण-पत्र का निर्गमन
  • आय प्रमाण-पत्र का निर्गमन
  • नॉन क्रीमी लेयर प्रमाण पत्र का निर्गमन (बिहार सरकार के प्रयोजनार्थ)
  • नॉन क्रीमी लेयर प्रमाण पत्र का निर्गमन (केन्द्र सरकार के प्रयोजनार्थ)
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए आय और संपत्ति प्रमाण-पत्र का निर्गमन
पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन विभाग
  • कारोबार में सुगमता के अंतर्गत गैर वन भूमि / वन क्षेत्र से दूरी प्रमाण पत्र
परिवहन विभाग
  • सारथी आवेदन
  • वाहन आवेदन
राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग
  • ऑनलाइन लगान भुगतान
  • ऑनलाइन दाखिल ख़ारिज
पर्यटन विभाग
  • टूर ऑपरेटरों / ट्रैवल एजेंटों की मान्यता और नवीनीकरण
  • होटल की मान्यता और नवीनीकरण

उपर्युक्त बताई गई कई योजनाओं का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी को सरकारी कार्यालय अनुमंडल जाना अनिवार्य होता है, सामान्य प्रशासन विभाग के अंतर्गत आने वाले सेवाओं काला अब कोई भी व्यक्ति घर बैठे ही ऑनलाइन आवेदन करके प्राप्त कर सकता है, यदि कोई व्यक्ति जाति प्रमाण पत्र आय प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र बनाने के लिए सरकारी कार्यालय जाना चाहता है तो उस तरीके से भी अपना बना सकता है।

बिहार आरटीपीएस पोर्टल के सहायता से जाति/आय/निवास प्रमाण पत्र बनाने किन दस्तावेजों की आवश्यकता है?

आप यदि आरटीपीएस पाटन की सहायता से किसी भी दस्तावेज के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं जो सामान्य प्रशासन विभाग के अंतर्गत आती है तो आपके पास जरूरी दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड ईमेल आईडी मोबाइल नंबर का होना अनिवार्य है। ऑनलाइन आवेदन करते समय आपको जरूरी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होती है, तो आप इस जान बात की जानकारी पहले से ही प्राप्त करके रखले की आपको सभी जरूरी दस्तावेजों का स्केन कॉपी पहले से ही तैयार रखना है। आवेदन करते समय आपको एक पासपोर्ट साइज फोटो भी अपलोड करना होता है, सबसे जरूरी यह है कि आरटीपीएस पोर्टल के सहायता से ऑनलाइन आवेदन करते समय आंख को अपने नाम एवं अन्य जानकारियों को हिंदी तथा अंग्रेजी दोनों में अंकित करना होता है और कई स्थितियों में ऐसा होता है कि जानकारियां अंकित करते समय अंग्रेजी मैं तो जानकारियां सही तरीके से लिखा जाता है लेकिन हिंदी में टाइपिंग गलत होने के कारण कई बार आपके द्वारा दिया गया आवेदन रद्द कर दिया जाता है।

समान प्रशासन विभाग के अंतर्गत आने वाले किसी भी दस्तावेज के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

यदि आप समान प्रशासन विभाग के अंतर्गत आने वाले किसी भी दस्तावेज (जाति प्रमाण पत्र आवास प्रमाण पत्र या आय प्रमाण पत्र) के लिए आवेदन देना चाहते हैं तो आप नीचे गए स्टेप्स कौन जानवर फॉलो करें।

  • समान प्रशासन विभाग के अंतर्गत आने वाले किसी भी दस्तावेज के लिए आवेदन करने हेतु सबसे पहले आपको बिहार आरटीपीएस पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा, जिसका यूआरएल https://serviceonline.bihar.gov.in/ है।
  • बिहार आरटीपीएस पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचने के बाद आपको सामान्य प्रशासन विभाग का ऑप्शन लोक सेवाओं का अधिकार की सेवाएँ के नीचे प्राप्त हो जाएगा इस ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • ऊपर बताए गए ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आय प्रमाण-पत्र का निर्गमन, जाति प्रमाण-पत्र का निर्गमन‌‌ एव‌ आवासीय प्रमाण-पत्र का निर्गमन का‌ ऑप्शन प्राप्त हो जाएगा, आपको जिस दस्तावेज को बनाना है उस पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने तीन और ऑप्शन उपलब्ध हो जाएंगे, वह तीन ऑप्शन अंचल स्तर पर, अनुमंडल स्तर पर एवं जिला स्तर पर का होगा आप अंचल स्तर पर वाले ऑप्शन पर क्लिक करके दूसरे वेब पेज पर पहुंचे। 
  • उपर्युक्त बताए गए ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपको सभी जरूरी जानकारियां भरने को कहा जाएगा और फिर जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा, जब आप सभी जानकारियां सही-सही भरें और जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करदे उसके पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करके अपना एप्लीकेशन फॉर्म सबमिट करें।

सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद आपके द्वारा अंकित किए गए मोबाइल नंबर पर एक एप्लीकेशन नंबर प्राप्त हो जाएगा इस एप्लीकेशन नंबर को आप किसी सुरक्षित जगह सेव करके रख ले क्योंकि इसके सहायता से आप यह जान पाएंगे कि आपके द्वारा दिया गया आवेदन से आपका तक जाति प्रमाण पत्र, आवास प्रमाण पत्र,‌या आय प्रमाण पत्र बना है या नहीं।

Leave a Comment